औरंगाबाद

देव छठ मेला की तैयारी को लेकर डीएम ने की जिलास्तरीय बैठक,तैयार हुआ मास्टर प्लान,अधिकारियों को सौपी गई जिम्मेवारी

औरंगाबाद । जिला पदाधिकारी, श्री सौरभ जोरवाल द्वारा आगामी कार्तिक छठ मेला के मद्देनजर समाहरणालय सभागार में सभी जिला स्तरीय एवं देव प्रखंड के पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक आहूत की गई।इस बैठक में उपस्थित भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता, राकेश कुमार द्वारा बताया गया कि पिछली बार कुल चिन्हित 47 जगहों पर ड्रॉप गेट बनाया गया था। इस बार भी निरीक्षण के उपरांत चिन्हित स्थलों पर बैरिकेडिंग का निर्माण कराया जाएगा।

 

जिला पदाधिकारी द्वारा पीएच ईडी के कार्यपालक अभियंता को चापाकल की मरम्मती एवं पानी के टैंकर की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया। साथ ही सभी आवासन स्थलों पर शौचालय एवं पानी की व्यवस्था करने हेतु निर्देश दिया गया। जिला मत्स्य पदाधिकारी एवं नगर कार्यपालक पदाधिकारी को सूर्य कुंड में बैरिकेडिंग के चारों तरफ जाल लगवाने का निर्देश दिया गया।

 

कार्यपालक अभियंता, ग्रामीण कार्य विभाग एवं पथ निर्माण विभाग को उनके विभाग के पथ एवं इसके वल्नरेबल पॉइंट्स की जानकारी एकत्रित कर मरम्मती कराने का निर्देश दिया गया तथा निर्देश दिया गया कि देव आने वाले इन रास्तों पर जहां भी गड्ढे हो उन्हें तुरंत ठीक कराया जाय।कार्यपालक अभियंता, विद्युत विभाग को देव छठ मेला के मार्ग में पड़ने वाले पोल, ट्रांसफार्मर एवं जर्जर तारों की जांच करा कर मरम्मती कराने का निर्देश दिया गया।

 

जिला परिवहन पदाधिकारी को यातायात व्यवस्था के बारे में देव मोड़ के एंट्री प्वाइंट एवं अन्य निर्धारित स्थलों पर पर बड़ी गाड़ियों एवं छोटी गाड़ियों के पार्किंग की व्यवस्था कराने का निर्देश दिया गया। जिला अग्निशमन पदाधिकारी को अग्निशमन की छोटी एवं बड़ी गाड़ियों की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। अग्निशमन पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि छठ मेला के दौरान अग्निशमन की 10 छोटी गाड़ियां एवं 02 बड़ी गाड़ियां मौके पर उपस्थित रहेंगे।

 

एसीएमओ औरंगाबाद, डॉक्टर किशोर कुमार को एंबुलेंस की व्यवस्था कराने एवं महत्वपूर्ण स्थलों पर स्वास्थ्य शिविर लगाने का निर्देश दिया गया।वरीय उप समाहर्ता कृष्णा कुमार द्वारा बताया गया कि कुल 04 नियंत्रण कक्ष छठ पर्व के दौरान कार्यरत रहेंगे जिसमें से पहला देवगढ़ किला के पास, दूसरा तालाब के पास सूर्य कुंड पर, तीसरा देव थाना के पास एवं चौथा प्रखंड कार्यालय में कार्यरत रहेगा।

 

एसडीपीओ गौतम शरण ओमी द्वारा बताया गया कि इस दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने के मद्देनजर पुलिस बल की पर्याप्त मात्रा में प्रतिनियुक्ति की जाएगी। राजस्व अधिकारी को जहां भी अस्थाई अतिक्रमण है उन्हे हटाने का निर्देश दिया गया।सहायक आपदा प्रभारी, मणिकांत कुमार को एनडीआरएफ की टीम से समन्वय स्थापित करने का निर्देश दिया गया एवं गोताखोर एवं लाइफ जैकेट की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। जिला गव्य विकास पदाधिकारी को छठ पर्व के दौरान दूध आदि की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया।

 

इस बैठक में अपर समाहर्ता आशीष कुमार सिन्हा, डीडीसी अभ्येंद्र मोहन सिंह, सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी गौतम शरण ओमी, जिला परिवहन पदाधिकारी बालमुकुंद प्रसाद, जिला पंचायती राज पदाधिकारी मंजू प्रसाद, सदर भूमि सुधार उप समाहर्ता सच्चिदानंद सुमन, वरीय उप समाहर्ता फतेह फैयाज, वरीय उप समाहर्ता कृष्णा कुमार, वरीय उप समाहर्ता मनीष कुमार, वरीय उप समाहर्ता अमित कुमार सिंह, वरीय उप समाहर्ता अनीशा भारती, कार्यपालक अभियंता भवन प्रमंडल राकेश कुमार, राजस्व अधिकारी देव, नगर कार्यपालक पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता पीएचईडी, सहायक अभियंता ग्रामीण कार्य विभाग एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page