औरंगाबाद

भारत ही नही पाकिस्तान एवं बांग्लादेश में भी सम्मान की नजरों से देखे जाते हैं भगत सिंह

औरंगाबाद। “हमारे अविभाजित भारत के तमाम महापुरुषों में शहीद-ए-आजम ही एकमात्र ऐसे महापुरुष हैं जिन्हें भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश- तीनों राष्ट्रों में आम जनता के द्वारा समान रूप से इज्जत की नजरों से देखा जाता है ।” यह बात बुधवार को अरविंदो मिशन स्कूल,दाऊदनगर के प्रांगण में आयोजित शहीद भगत सिंह की जयंती समारोह के अवसर पर एक संकल्प सभा को संबोधित करते हुए ओबरा के पूर्व विधायक सह अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय महासचिव कॉमरेड राजाराम सिंह ने कही ।

 

उन्होंने कहा कि इन्हीं की वजह से अविभाजित भारत का सपना आज भी जिन्दा है । उन्होंने अपने संबोधन के दौरान मौजूदा दौर में देश के अंदर लोकतन्त्र पर बढ़ते फासीवादी हमलों के खतरों से लड़ने के लिए भगत सिंह के विचारों को बेहद प्रासंगिक बताया । उन्होंने कहा कि उनकी शहादत के करीब नब्बे वर्ष बित जाने के बावजूद ; उनके विचार आज भी बिल्कुल जवान हैं ।
सबसे पहले कार्यक्रम की शुरुआत शहीद भगत सिंह के सम्मान में दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए की गई । तत्पश्चात उपस्थित सभी लोगों ने बारी-बारी से शहीद-ए-आजम के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की ।

 

इस श्रद्धांजलि सह संकल्प-सभा को संबोधित करते हुए शहीद-ए-आजम भगत सिंह सामाजिक विकास संस्थान के सचिव सत्येन्द्र कुमार ने एक नौ-सूत्री संकल्प-प्रस्ताव पेश किया जिसमें दाऊदनगर-नासरीगंज सोन पुल का नामकरण “शहीद भगत सिंह-सेतु” करने के लिए सभी सामाजिक-राजनीतिक संगठनों को एकजुट कर एकताबद्ध संघर्ष संचालित करने, शहीद भगत सिंह के शहादत दिवस 23 मार्च के दिन “शहीद-ए-आजम-दिवस” घोषित करते हुए इस दिन सार्वजनिक छुट्टी घोषित करने, शहीद भगत सिंह के जयंती के दिन 28 सितंबर को भी सार्वजनिक छुट्टी घोषित करने, शहीद भगत सिंह समेत उनके साथ शहीद हुए राजगुरु और सुखदेव की तस्वीर संसद भवन में लगवाने, शहीद-ए-आजम की प्रतिमा सभी राज्यों की राजधानियों में लगाने,सभी राज्यों की विधानसभाओं में इनकी तस्वीर लगाने,इनकी सभी रचनाओं को सरकार द्वारा प्रकाशित करवाकर उनका मुफ्त वितरण करवाने के लिए संघर्ष करने का संकल्प प्रमुख हैं । इन सभी संकल्प प्रस्तावों को उपस्थित जन-समूह ने हर्षध्वनी के साथ सर्वसम्मति से पारित किया ।

 

उपर्युक्त वक्ताओं के अलावा इस संकल्प सभा को संस्थान के कोषाध्यक्ष संजय कुमार सिंह, उपाध्यक्ष मो सब्बीर अहमद, संयुक्त सचिव राजकमल कुमार सिंह, कार्यकारिणी सदस्य सुरेन्द्र सिंह, राजाराम सिंह यादव, मीना सिंह, अख्तरी बानों, ममता देवी, प्रह्लाद प्रसाद, सुनील कुमार प्रजापति, महेन्द्र राम, बिरजू चौधरी, अवधेश कुमार, सत्येन्द्र जयसवाल, अरविंदो मिशन स्कूल के प्रिंसिपल सुषमा सिन्हा, इसी विद्यालय की शिक्षिका सिंपी सिन्हा, नजराना खातुन, रूही प्रवीन, सोनू कुमार, अमित कुमार, मनीष कुमार, रामप्यारे प्रसाद, मो कयूम अंसारी, महफूज आरिफ, राम सकल महतो,इत्यादि गणमान्य लोगों ने भी इस संकल्प सभा को संबोधित किया । इस सभा की अध्यक्षता संस्थान के अध्यक्ष कृष्णा प्रसाद चंद्रवंशी ने की ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page