औरंगाबाद

जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा 12 दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम के लिए कैलेण्डर हुआ जारी, सभी की भागीदारी से यह कार्यक्रम मील का पत्थर होगा साबित- जिला जज

औरंगाबाद। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली के निर्देशानुसार विशेष कानूनी जागरूकता कार्यक्रम के द्वारा ‘ नागरिको का सशक्तिकरण तथा हक हमारा भी तो है’ कार्यक्रम के तहत 12 दिवसीय चलने वाले वृहत कार्यक्रम के लिए जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह प्राधिकार के अध्यक्ष रजनीश कुमार श्रीवास्तव अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव प्रणव शंकर जिला पदाधिकारी सौरभ जोरवाल एवं पुलिस अधीक्षक, कान्तेश कुमार मिश्रा द्वारा मंगलवार को संयुक्त रूप से कैलेण्डर जारी किया गया।

 

भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में पिछले वर्ष 42 दिनों का मेगा कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसका लाभ बहुत सारी ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगो तक पहुॅचा। कैलेण्डर जारी करते समय पत्राकारों को सम्बोधित करते हुए जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह प्राधिकार के अध्यक्ष रजनीश कुमार श्रीवास्तव के द्वारा पत्रकारो को बताया कि इस बार का कार्यक्रम 12 दिवसीय है जिसके अन्तर्गत दिनांक 2 नवंबर से 13 नवंबर तक पंचायत स्तर पर विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों आयोजित किया जाना है।

 

इस कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यकारी अध्यक्ष सह न्यायमूर्ति, उच्चतम न्यायालय, नई दिल्ली द्वारा 31 अक्टूबर को किया गया है। इस उद्घाटन के तत्पश्चात पुरे कार्यक्रम को गाॅंव/पंचायत स्तर पर प्रचारित करते हुए जागरूकता कार्यक्रम किया जाना है जिससे कि अधिक से अधिक लोगों तक इस जागरूकता कार्यक्रम का लाभ प्राप्त हो सके। उक्त कार्यक्रम में शिक्षा विभाग, औरंगाबाद को विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करने का निर्देश दिया गया है।

 

जिसके अन्तर्गत श्रृखंलाबद्ध कार्यक्रम के क्रम में विभिन्न गतिविधियाॅ/प्रतियोगिता का आयोजन विद्यालय के माध्यम से किया जाना जिसमें 5 दिसंबर को पूर्वा 10 बजे से राष्ट्रीय महिला आयोग से सम्बन्धित कार्यक्रम जिला विधिक सेवा प्राधिकार, औरंगाबाद के प्रांगण में किया जाना है।जिपीला जज द्वारा यह भी बताया गया कि दिनांक 07 को विद्यालय के छात्र/छात्राओं को सम्मिलित करते हुए जिला स्तरीय पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन योजना भवन, समाहरणालय, औरंगाबाद में किया जायेगा।

 

साथ ही 08 नवंबर को विद्यालय के छात्र/छात्राओं को सम्मिलित करते हुए निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन योजना भवन, समाहरणालय, औरंगाबाद में किया जायेगा है। जिसमें दो समूहो यथा जुनियर ( वर्ग 9 से 12) एवं सीनियर समूह (वर्ग स्नातक एवं इससे उपर) में आयोजित की जायेगी इसके लिए आजादी के 75 वर्ष ’’समस्या एवं चुनौतियाॅं’’ विषय निर्धारित है।

 

जिला जज द्वारा यह भी बताया कि 9 को विद्यालय के छात्र/छात्राओं, एनसीसी, स्काउट एण्ड गाईड, के अलावे पारा विधिक स्वयं सेवकों तथा अन्य के सहयोग से विधिक सेवा दिवस के अवसर पर व्यापक स्तर पर एक रैली का आयोजन किया जायेगा। इसके अतिरिक्त विभिन्न विद्यालयों, महाविद्यालयों, शैक्षणिक संस्थानों में अलग-अलग तिथियों में व्यापक तौर पर सेमिनार/जागरूकता कार्यक्रम कराने हेतु अधिसूचना निर्गत कर दिया गया है जिससे कि छात्र छात्राओं को भी विधिक रूप से जागरूक करते हुए सशक्त किया जा सके। इसके अतिरिक्त जिला विधिक सेवा प्राधिकार 06 नवंबर को विधिक समस्या एवं समाधान विषय पर मेगा कैम्प आयोजित करेगा तथा 9 नवंबर को विधिक सेवा दिवस के अवसर पर ही एक विशिष्ट प्रदर्शनी का आयोजन प्राधिकार के सभागार में करेगा।

 

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह प्राधिकार के सचिव प्रणव शंकर ने बताया कि इस 12 दिवसीय कार्यक्रम के तहत प्राधिकार द्वारा विभिन्न सामाजिक संस्थानों, शैक्षणिक संस्थानों, स्वयं सेवी संस्थानों छात्र, छात्राओं, पारा विधिक स्वयं सेवकों के सहयोग से पुरे जिले के प्रत्येक पंचायत को अच्छादित करने के उददेष्य से लगाया गया है साथ ही जिला पदाधिकारी के सहयोग से विभिन्न विभागों का सहयोग प्राप्त होने के कारण जिला के साथ-साथ प्रत्येक पंचायत, प्रखण्ड, अनुमण्डल तक उक्त कार्यक्रमों के जरीय लोगों को विधिक जागरूकता के माध्यम से सशक्त करने का प्रयास विधिक सेवा प्राधिकार करेगा।

 

इसके सामान्तर जिले के दोनों कारागारो अर्थात् मण्डल कारा, औरंगाबाद तथा अनुमण्डल कारा, दाउदनगर में संसीमित बंदियों के हक को भी ध्यान में रखकर प्राधिकार प्रत्येक बंदी के पास जाकर उसका डाटा वेस तैयार करते हुए उन्हें उनकी समस्याओं से अवगत होते हुए उसका निदान करने का प्रयास कर रही है।सचिव द्वारा यह भी बताया गया कि सभी कार्यक्रम का व्यापक समापन 13 नवंबर को अनुग्रह नारायण नगर भवन, औरंगाबाद में 11 बजे पूर्वाह्न से किया जायेगा जिसमें विभिन्न तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रम के बीच विभिन्न गतिविधियाॅं/प्रतियोगिता के विजेताओं को प्रशस्ति-पत्र/पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page