औरंगाबाद

दो अलग-अलग सड़क हादसे में सीआरपीएफ जवान सहित तीन हुए घायल, इलाज के बाद तीनों को किया गया रेफर

औरंगाबाद। औरंगाबाद जिले के दो अलग-अलग हुए सड़क हादसे में एक सीआरपीएफ जवान सहित तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए है और तीनों को बेहतर उपचार के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।

हादसे की पहली घटना औरंगाबाद जिले के कुटुंबा प्रखंड क्षेत्र के औरंगाबाद डाल्टेनगंज रोड 139 पर धनीबार गांव के समीप स्थित पोला होटल के पास शनिवार की रात्रि में घटी। इस घटना में दो बाइक की आमने-सामने की टक्कर में एक सीआरपीएफ जवान और एक अन्य घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए आनन-फानन में स्थानीय लोगों की मदद से सदर अस्पताल औरंगाबाद लाया गया। जहां दोनों घायलों की स्थिति को गंभीर देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए चिकित्सकों ने हायर सेंटर रेफर कर दिया।

 

घायल हुए सीआरपीएफ जवान की पहचान एरका गांव निवासी चंदन कुमार के रूप में की गई है। जो दिल्ली में पदस्थापित हैं। वही दूसरे घायल की पहचान धनीबार गांव निवासी सोनू कुमार के रूप में की गई है। बताया जाता है कि सीआरपीएफ जवान बाइक से हरिहरगंज से एरका अपने गांव लौट रहे थे तथा सोनू अपने गांव धनीबार से हरिहरगंज जा रहा था। इसी दौरान दोनों की बाइक पोला होटल के समीप आमने सामने टकरा गई और दोनों ही इस हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए।

 

वहीं दूसरी घटना रफीगंज थाना क्षेत्र के रेगनिया गांव के समीप शनिवार की देर रात ही घटी। जहां बाइक के अगले टायर के फट जाने से बाइक चालक सड़क पर गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे उस रास्ते से गुजर रहे लोगों के द्वारा इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रफीगंज लाया गया। मगर प्राथमिक उपचार के बाद उसकी स्थिति को गंभीर देखते हुए सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। सदर अस्पताल आने के बाद बाइक चालक की स्थिति को गंभीर देखते हुए यहां से भी उसे बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया।

 

घायल हुए बाइक सवार की पहचान मदनपुर के मेदन गांव निवासी दीपक कुमार के रूप में की गई है। बताया जाता है कि दीपक रफीगंज के काशी बीघा गांव अपने ससुराल गया हुआ था जहां से लौटने में उसे देर हो गई। वापस अपने गांव मेदन आ रहा था और आने के क्रम में उसके बाइक का अगला टायर फट गया जिससे वह बुरी तरह घायल हो गया। घायल अवस्था में सड़क पर पड़ा देख राहगीरों के द्वारा उसे उठाया गया और उसके पॉकेट से प्राप्त पते से परिजनों को इसकी सूचना दी गई और परिजनों से लेकर सदर अस्पताल आए और यहां से इलाज के लिए हायर सेंटर ले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page