औरंगाबाद

भारतीय जनता पार्टी छोड़कर जदयू के सदर प्रखंड अध्यक्ष बने राकेश सिंह का इस्तीफा जिलाध्यक्ष ने किया स्वीकार, की उज्ज्वल भविष्य की कामना

औरंगाबाद। भारतीय जनता पार्टी की राजनीति से इस्तीफा देकर जदयू में शामिल हुए और निर्विरोध सदर प्रखंड अध्यक्ष के पद पर निर्वाचित हुए नगर के पूर्व मुखिया राकेश कुमार सिंह के निर्वाचन के बाद भाजपा ने अपनी चुप्पी तोड़ी है और उन्हें शुभकामनाएं दी है इस संबंध में भारतीय जनता पार्टी के जिला मीडिया प्रभारी मितेन्द्र कुमार सिंह ने एक प्रेस बयान जारी कर बताया कि उन्हें भाजपा जिलाध्यक्ष मुकेश शर्मा के द्वारा यह जानकारी दिया गया कि भाजपा के जिला उपाध्यक्ष रहे राकेश कुमार सिंह ने अपने पद और प्राथमिक सदस्य से इस्तीफा दे दिया है।

लेकिन उनके द्वारा दिया गया इस्तीफा पत्र में यह बताया गया है कि मैं इस्तीफा व्यक्तिगत कारणों से दिया हुँ। मीडिया के माध्यम से प्राप्त जानकारी के अनुसार 27 अक्टूबर को ही उन्होंने जदयु की सदस्यता ग्रहण कर ली। लेकिन इसकी जानकारी जिलाध्यक्ष मुकेश शर्मा को व्हाट्सएप पर 15 नवम्बर को दिया गया। राकेश सिंह का जदयू में जाना दुर्भाग्यपूर्ण है।वे पहले राष्ट्रहित में भाजपा कार्यकर्ता के रूप में कार्य कर रहे थे। लेकिन उनका यह कहना है कि व्यक्तिगत कारणों से जदयू में गए है।इस बात में बिल्कुल भी सच्चाई नही है। बल्कि हकीकत यह है कि व्यक्तिगत स्वार्थ में उन्होंने जदयू का दामन थामा हैं।

 

क्योंकि उनकी इच्छा है कि जब 20 सूत्री का जब गठन हो तो उसमें उन्हे जगह मिल जाए। विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी के जिला उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर जदयू जैसे क्षेत्रीय पार्टी में प्रखंड अध्यक्ष बनना यह सम्मानजनक पद नहीं है। विगत पंचायत चुनाव में मुखिया रहते हुए मुखिया का पद छोड़कर सरपंच पद से चुनाव लड़कर उन्होंने जो अपना जनाधार और जनता के बिच लोकप्रियता साबित किया उसी से प्रभावित होकर जदयू ने उन्हें प्रखंड अध्यक्ष बनाया है।भाजपा जिलाध्यक्ष ने उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उनका इस्तीफा स्वीकार कर किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page