औरंगाबाद

खेत में पहुंचे डीएम और काटने लगे धान

केशव कुमार सिंह

 

औरंगाबाद। देश मे IAS और IPS का पद रूतवा वाला माना जाता है,पर कई युवा इस पद पर आने के बाद भी सादगी और लीक से हटकर काम करने के लिए कुछ न कुछ पहल करते रहतें हैं.इसमें बिहार कैडर के आईएएस अधिकारी सौरभ जोरवाल भी हैं.वे तत्काल औरंगाबाद जिले के डीएम हैं और लोगों को प्ररेति करने के लिए कुछ न कुछ कदम उठाते रहतें हैं.

 

इस कड़ी में जब डीएम धान की क्रॉप कटिंग कराने खेत पहुंचे तो उन्हौने खुद से ही हंसुआ पकड़ लिया और धान काटने लगे.उनके इस किसानी रूप को देखकर उपस्थित लोगों ने ताली बजाकर स्वागत किया.डीएम जिले के सदर प्रखंड के पडरवा पंचायत के जोकहरी गांव पहुंचे और धान के फसल का क्रॉप कटिंग के लिए डीएम ने पैंट शर्ट पहन कर खेत पहुंचे थे और खेत पहुंचते ही डीएम तैयार धान की फसल को प्रणाम किया और मंत्रोच्चार के साथ हसुंआ लेकर धान की कटनी करने लगे ।

 

डीएम के इस सादगी भरे किसान के पारंपरिक ड्रेस में देखकर आम किसान और उपस्थित लोग काफी प्रसन्न दिखे।इस मौके पर जिला सांख्यिकी पदाधिकारी सतीश कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी, बीडीओ,पंचायत के मुखिया अनिल पासवान, समिति सुनील कुमार सिंह,वार्ड सदस्य रामकुमार चौबे,भावेश चौबे,राजस्व कर्मचारी मो तौकीर, किसान अरविंद सिंह,मीतू सिंह,गौतम कुमार, उमा सिंह सहित अन्य ग्रामीण उपस्थित थे।

 

इसके बाद डीएम ने बगल में ही रहे प्राथमिक विद्यालय का जांच किया और शिक्षक के भूमिका में बच्चों को न सिर्फ पढ़ाया बल्कि किचेन में बन रहें भोजन का भी जांच की और विद्यालय भी व्यवस्था पर न तो खुशी जाहिर की और न ही तारीफ किया। बल्कि व्यवस्था में सुधार करने की हिदायत दी।साथ ही कहा कि बच्चों की उपस्थिति को हरहाल में बढ़ाये।

 

इसी बीच चित्रगोपी गांव की भुनेश्वर विश्वकर्मा की पत्नी पहुची और रोते हुए कही की हमारे घर मे बिजली का बल्ब नही जलती हैं साहब फिर भी सात हजार का बिल भेज दिया गया।कारण यह हैं कि कुछ माह पहले वार्ड सदस्य ने हमारा आधार कार्ड बिजली कनेक्शन दिलाने के नाम पर लिया था।महिला के आवेदन पर डीएम ने जांच कर उचित कारवाई करने का आश्वासन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page