औरंगाबाद

जिला विधिक संघ में 7 वीं पुण्यतिथि पर राम प्रवेश बाबू को किया गया याद

 

राम प्रवेश बाबू ने वकील के मूल्यों व आदर्शों को रखा अक्षुण- जिला जज

औरंगाबाद। जिला विधिक संघ में जिले के वरिष्ठ अधिवक्ता रहे राम प्रवेश बाबू की सातवीं पुण्यतिथि वकालत खाने के रघुनंदन सेंट्रल हॉल में समारोह पूर्वक मनाया गया।कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला विधिक संघ के अध्यक्ष रसिक बिहारी सिंह ने तथा संचालन स्वर्गीय राम प्रवेश बाबू के प्रधानाध्यापक पुत्र उदय कुमार सिंह ने किया।

 

श्रद्धांजलि सभा में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए जिला जज मनोज कुमार तिवारी ने राम प्रवेश बाबू में तस्वीर पर पुष्प अर्पित करते हुए उन्हें अपनी विनम्र श्रद्धांजलि दी। अपने संबोधन में जिला जज ने उनके किये गए कार्यों को अन्य अधिवक्ताओं के लिए अनुकरणीय बताया।साथ ही साथ जिला जज ने उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर “लंबित मुकदमों के त्वरित निष्पादन” विषय पर आयोजित विचार विमर्श पर सारगर्भित चर्चा की। उन्होंने न्याय दिलाने की प्रक्रिया से जुड़े सभी स्टेकहोल्डर्स को सहयोग करने की अपील की और कहा कि इसके लिए न्यायधीशों के अतिरिक्त अधिवक्ता उनके लिपिक सबको आगे आना होगा।

 

पुण्यतिथि समारोह में जिला जज के अतिरिक्त अन्य न्यायाधीशों में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव सह एडिजे प्रणव शंकर, एडिजे निखिलेश कुमार त्रिपाठी, एडीजे अशोक राज, एडीजे विवेक कुमार, एडीजे आंन्नदिता सिंह, एडीजे दिनेश कुमार प्रधान, एडीजे रविन्द्र कुमार, सीजीएम सुकुल राम आदि ने राम प्रवेश बाबू की तस्वीर पर श्रद्धा सुमन अर्पित की।

 

 

जिला विधिक संघ के अध्यक्ष रसिक बिहारी सिंह ने इस विषय पर स्वर्गीय राम प्रवेश बाबू द्वारा ही लिखित उनके आर्टिकल को रेखांकित किया और उन्हें बेहद ईमानदार व कानून का मर्मज्ञ बताया। जिला विधिक संघ के महासचिव नागेंद्र कुमार सिंह ने राम प्रवेश बाबू को विधि का पाठशाला बताया व रघुनंदन भवन के निर्माण में स्व प्रवेश बाबू को साथ देने वाले जिले के प्रसिद्ध व्यवसायी एवं अधिवक्ता राकेश कुमार सिंह उर्फ पप्पू सिंह की सराहनीय एवं मज़बूत वितीय भूमिका की चर्चा की। उन्होंने उनके कार्यकाल में अधिवक्ता कल्याण कोष के गठन को जिले के वकीलों के लिए बड़ा अवदान बताया।

 

 

कार्यक्रम को वरीय अधिवक्ता नागेश्वर सिंह,महेंद्र प्रसाद सिंह ने भी राम प्रवेश बाबू में द्वारा जिला विधिक संघ को दिए बहुमूल्य पचास साल को बेमिसाल बताया। स्वर्गीय राम प्रवेश बाबू के सुपुत्र अनुग्रह स्कूल के प्रधानाध्यापक उदय कुमार सिंह ने अपने पिता के जीवन से जुड़े कई अनसुनी बातों को बताकर सैकड़ों की संख्या में मौजूद वकीलों के साथ साथ न्यायधीशों को भावुक कर दिया।

 

कार्यक्रम में कामत सिंह, बागेश्वरी प्रसाद, अभय कुमार सिंह, ओम प्रकाश सिंह, होटल सरस्वती इन के मालिक रविंदर सिंह, प्रो.विजय कुमार सिंह, होटल मृगनैनी के मालिक शैलेन्द्र कुमार सिंह, गोकुल सेना के संजीव सिंह, शिक्षक नेता जयंत कुमार सिंह, मिराज खान, विधि संघ के प्रवक्ता सतीश कुमार स्नेही व अभिराम सिंह सहित सैकड़ों वकील उपस्थित होकर राम प्रवेश बाबू की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page