औरंगाबाद

विश्व एड्स दिवस पर अनुग्रह मध्य विद्यालय के बच्चे हुए संकल्पित, बचाव के प्रति करेंगे लोगो को जागरूक

औरंगाबाद। जिला मुख्यालय स्थित अनुग्रह मध्य विद्यालय में प्रधानाध्यापक उदय कुमार सिंह की अध्यक्षता में विश्व एड्स दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए हेडमास्टर ने बताया कि लोगों को एड्स की भयावहता से जागरूक करने के लिए 1988 से ही 1 दिसंबर को वर्ल्ड एड्स डे मनाया जाता है। विशेषकर किशोरवय उम्र में एड्स की पूरी जानकारी एवं बचने के उपायों क विस्तृत जानकारी देना आज और भी आवश्यक है।

इस अवसर पर बच्चों ने रेड रिबन बनाकर शिक्षकों को भेंट किया एवं इस रोग से बचाव के प्रति लोगों को जागरूक करने के प्रति संकल्पित हुए। इस दौरान बच्चों ने इस विषय पर निबंध लेखन भी किया। प्रधानाध्यापक उदय कुमार सिंह ने बच्चों से अपील किया कि वे एड्स के बारे में अपने अभिभावकों एवं आसपास के लोगों को अवगत कराएं।

उन्होंने बताया कि एड्स का कारण है एचआईवी या ह्यूमन इम्युनोडिफेशिएंसी वायरस। ये वायरस शरीर के इम्यून सिस्टम (प्रतिरक्षा तंत्र) पर हमला करता है और उसे इतना कमजोर कर देता है कि शरीर दूसरा कोई संक्रमण या बीमारी झेलने के काबिल नहीं बचता। अगर इसका समय पर इलाज नहीं किया गया तो ये आगे चलकर AIDS बन जाता है।

दुनिया भर में फिलहाल इसका पुख्ता इलाज नहीं है लेकिन कुछ दवाओं के जरिए मरीज का इम्युन सिस्टम मजबूत बनाए रखा जाता है ताकि वो जिंदा रह सकें। विद्यालय के शिक्षक एवं शिक्षिकाएं भी इस वर्ष के थीम “लेट्स लीड द कम्युनिटीज”
पर अपनी अपनी बातें बच्चों के समक्ष रखीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page