औरंगाबाद

जम्होर के रामपुर में शराब पीकर अचेत हुए दो शराबियों के सदर अस्पताल में गम्भीर हालत में भर्ती की सूचना पर मचा हड़कंप, जांच को पहुंचे एसडीपीओ

औरंगाबाद। बिहार सरकार द्वारा लगातार शराबबन्दी को लेकर प्रत्येक जिले के डीएम एवं एसपी से अपडेट रिपोर्ट ली जा रही है और हर हाल में शराबबन्दी को लागू करने के निर्देश दिए जा रहे हैं।हालांकि सरकार के आदेश के साथ साथ जिला प्रशासन अवैध शराब निर्माण,वितरण,सेवन एवं भंडारण को लेकर लगातार छापेमारी की जा रही है।बावजूद इसके अवैध निर्माण, वितरण एवं सेवन से लोग बाज नही आ रहे है। ऐसा ही एक मामला शुक्रवार को सदर प्रखंड के जम्होर थाना क्षेत्र के रामपुर से आया जहां दो ग्रामीणों द्वारा इतनी मात्रा में शराब का देवन कर लिया गया था कि दोनों मरते मरते बचे।

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार रामपुर गांव के बधार में शराब पीकर ग्रामीण बबन चौधरी और जयराम चौधरी की हालत शराब पीने से काफी खराब हो गई।इसकी सूचना ग्रामीणों के द्वारा एसपी को दी गयी। एसपी ने अविलम्ब जम्होर थाना को रामपुर भेजा। जहां से पुलिस ने दोनों शराबियों को अचेतावस्था में जम्होर पीएचसी ले गए।मगर प्राथमिक उपचार के बाद वहां से प्रथम चिकित्सीय जांच के बाद दोनों को रेफर कर दिया गया।थाने की पुलिस ने उन दोनों को सदर अस्पताल लाई जहां चिकित्सकों ने उन्हें भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया ताकि शराब का असर कम हो सके।

 

इनमें से एक कि स्थिति काफी खराब थी जिसकी जानकारी मिलते ही एसडीपीओ सदर गौतम शरण ओमी सदर अस्पताल पहुंचे और और दोनों शराबियों की स्थिति का जायजा लिया।प्रशानिक पदाधिकारियों को इस बात की चिंता सता रही थी कि कही कोई विषम परिस्थिति न उत्तपन्न हो जाए। अस्पताल पहुंचकर एसडीपीओ ने वार्ड में भर्ती अचेत पड़े शराबियों को न सिर्फ देखा बल्कि उनका इलाज कर रहे चिकित्सक से बात की।

 

 

साथ ही साथ अस्पताल उपाधीक्षक डॉ विकास कुमार से मिलकर दोनों की स्थिति की जानकारी ली। एसडीपीओ ने अस्पताल उपाधीक्षक से दोनों शराबियों को बेहतर से बेहतर चिकित्सीय सुविधा देने का आग्रह किया ताकि उनका जीवन बच सके।अस्पताल उपाधीक्षक से बात कर पूरी तरह से संतुष्ट होंने के बाद एसडीपीओ ने कहा कि दोनों शराबियों की स्थिति खतरे से बाहर है और गांव में अवैध शराब निर्माण करने वाले कारोबारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

 

शराबियों के साथ गांव से आई महिला ने बताया कि बबन चौधरी जो शराब पीकर बेहोश है उसी के द्वारा महुआ शराब का निर्माण किया जाता है।आज उसने गांव के जयराम चौधरी के साथ दोपहर को शराब पी और शराब पीने के बाद बेहोश हो गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page