औरंगाबाद

सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान का डीएम ने किया शुभारंभ, छूटे बच्चों व गर्भवती महिलाओं को लगेगा टीका

औरंगाबाद। केंद्र व राज्य सरकार की ओर से संचालित सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान-4.0 का औरंगाबाद जिले में आगाज हो गया जिसको लेकर जिलाधिकारी सौरभ जोरवाल ने सोमवार को शहर के अदरी नदी किनारे स्लम एरिया में फीता काटकर अभियान का औपचारिक शुभारंभ किया। यह अभियान सोमवार से 13 मार्च तक चलेगा।

 

श्री जोरवाल ने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को विभिन्न जानलेवा बीमारियों से बचाना है। वहीं इस अभियान के जरिए स्वस्थ भारत व स्वस्थ बिहार की परिकल्पना को साकार किया जा सकेगा। आज से पूरे जिले में इस अभियान के तहत स्वास्थ्य कर्मियों की टीम गांव-गांव लक्षित घरों तक जाकर बच्चों को टीका देने के काम में जुट गए है। पूरे जिले में शत प्रतिशत बच्चों और गर्भवती महिलाओं के नियमित टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है।

 

श्री जोरवाल ने इस अभियान को सफल बनाने व शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने के लिए ज़िले वासियों से अपील करते हुए कहा कि ‘सुरक्षा ही बचाव है’ इसलिए सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान-4.0 के तहत आज 0-2 से वर्ष के बच्चों एवं गर्भवती महिलाएं जो किन्हीं कारणों से टीकाकरण से वंचित रह गईं हैं और उनका टीकाकरण नहीं हो पाया है, वे टीकाकरण जरूर कराएं। श्री जोरवाल ने बताया कि इस अभियान के तहत छुटे हुये 3204 को टीकाकरण किया जाएगा।

ज़िला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मिथिलेश कुमार ने बताया कि नवजात शिशुओं और बच्चों में होने वाली जानलेवा बीमारियों जैसे- पोलियो, खसरा-रूबेला, रोटा वायरस, डिप्थीरिया, टिटनेस, काली खांसी आदि से बचाने के लिए संपूर्ण टीकाकरण बेहद जरूरी है। सरकार नवजात शिशुओं और बच्चों को इन बीमारियों से बचाने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है।इस मौके पर डीपीएम मनोज कुमार, सीडीओ डॉ रवि रंजन, धनंजय समेत कई अन्य मौजूद रहें।

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page