औरंगाबाद

देव में चैती छठ के आयोजन को लेकर तैयारी शुरू,जिलाधिकारी ने विभागों को सौपी जिम्मेवारी

औरंगाबाद।गुरुवार को जिला पदाधिकारी सौरभ जोरवाल द्वारा अपने कार्यालय कक्ष में देव चैती छठ मेला के आयोजन से संबंधित बैठक का आयोजन किया गया।

 

बैठक में नगर कार्यपालक पदाधिकारी, औरंगाबाद को स्थल भ्रमण कर इसकी साफ सफाई का जायजा लेने का निर्देश दिया गया। कार्यपालक अभियंता, भवन निर्माण को सभी जरूरी स्थानों पर चैती छठ मेला से पूर्व बैरिकेडिंग कराने का निर्देश दिया गया।

 

पानी की व्यवस्था के संबंध में कार्यपालक अभियंता, पीएचईडी द्वारा बताया गया कि देव मंदिर के आस पास कुल 235 चपाकल हैं जिनकी जांच कर छठ पर्व से पूर्व रिपेयर करने का निर्देश दिया गया। कार्यपालक अभियंता द्वारा बताया गया कि इसके अतिरिक्त पर्याप्त मात्रा में पानी के टैंकरों की व्यवस्था भी की जाएगी।

 

जिला पदाधिकारी द्वारा कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग एवं कार्यपालक अभियंता, आरडब्ल्यूडी को देव मंदिर के आसपास की सड़क एवं नालियों को रिपेयर कराने का निर्देश दिया गया।

 

सिविल सर्जन औरंगाबाद को चैती छठ मेला के दौरान पूर्व निर्धारित स्थानों पर हेल्थ कैंप लगाने का निर्देश दिया गया। जिला गव्य विकास पदाधिकारी को इस अवसर पर पर्याप्त मात्रा में दूध उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया।

 

अनुमंडल पदाधिकारी विजयंत द्वारा बताया गया कि किसी भी प्रकार के वाहन का प्रवेश मंदिर एवं तालाब क्षेत्र में वर्जित रहेगा। इसके लिए जगह-जगह पर बैरिकेडिंग के माध्यम से गाड़ियों को रोका जाएगा। एनएच 02 के विभिन्न स्थलों पर दंडाधिकारी एवं पर्याप्त पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति होगी जो विधि व्यवस्था संधारित करने में आवश्यक सहयोग प्रदान करेंगे।

 

जिला में अग्निशमन पदाधिकारी, रितेश पांडे द्वारा बताया गया कि देव मंदिर परिसर के आसपास अग्निशमन के उद्देश्य से कुल 5 फायर की गाड़ियां तैयार रहेंगी।

 

जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि अगली बैठक देव प्रखंड के सभागार में माननीय जन प्रतिनिधियों, मंदिर के न्यास परिषद के सदस्यों एवं स्थानीय प्रशासन आदि के साथ की जाएगी।

 

इस बैठक में सिविल सर्जन डा कुमार वीरेंद्र प्रसाद, उप विकास आयुक्त मंजू प्रसाद, अपर समाहर्ता आशीष कुमार सिन्हा, सदर अनुमंडल पदाधिकारी विजयंत कुमार, एसडीपीओ सदर गौतम शरण ओमी, भूमि सुधार उप समाहर्ता अविनाश कुमार सिंह, जिला परिवहन पदाधिकारी सह डायरेक्टर डीआरडीए बालमुकुंद प्रसाद, वरीय उप समाहर्ता मनीष कुमार, प्रभारी जिला जनसंपर्क पदाधिकारी कृष्णा कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी कुंदन कुमार, अंचल अधिकारी देव, कार्यपालक पदाधिकारी देव, देव मंदिर न्यास परिषद के सदस्य एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page