औरंगाबाद

अपराधियों ने गोली मारकर की ईंट भट्ठे के रात्रि प्रहरी की हत्या

औरंगाबाद।बेखौफ औराधियों ने रविवार की रात पुलिसिया गस्ती को धत्ता बताते हुए एक ईंट भट्ठा के रात्रि प्रहरी की गोली मारकर हत्या कर दी और आसानी से चलते बने।घटना  रफीगंज थाना क्षेत्र के केराप पंचायत के केराप इट्टा भट्टा की है। मृतक की पहचान हसनपुर गांव निवासी कामेश्वर यादव के रूप में की गई है।मृतक के पुत्र राजकुमार यादव ने बताया कि उनके पिताजी पिछले 5 वर्षों से ईट भट्ठा पर रात्रि प्रहरी का काम करते थे। सोमवार की सुबह पता चला कि उनकी हत्या कर दी गई है।

 

गौरतलब है कि सोमवार की सुबह लभरी गांव के ग्रामीण शौच के लिए धावा नदी के तरफ निकले हुए थे इसी दौरान उन्हें रास्ते मे शव दिखा।जब लोगों ने नजदीक जाकर देखा तो उसकी पहचान कामेश्वर यादव के रूप में की और इसकी जानकारी उनके परिजनों को और रफीगंज थाने को दी। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष राम इकबाल यादव दल बल के साथ पहुंचे और शव का पंचनामा किया।

 

ईट भठ्ठे के मालिक सह पूर्व मुखिया निसाद अहमद ने बताया कि भट्ठा पर रात्रि प्रहरी का काम कर रहा था। रात्रि में ड्यूटी भी किया। भट्ठे के कार्यालय से अलग हटकर घटना को अंजाम दिया गया है।रात्रि लगभग 12:35 पर एक गोली चलने की आवाज भी सुनाई दी थी। यहां कार्यरत अन्य श्रमिक भी इधर-उधर दरखने की कोशिश की लेकिन कुछ पता नहीं चल सका और सुबह भट्टा के पास ही उनका शव मिला।

 

मृतक के पत्नी कमालती देवी एवं अन्य परिजन रो रो कर बुरा हाल है।लहरी गांव के ग्रामीण द्वारा बताया गया कि दो दिन पुर्व लभरी गांव के ही एक युवक अपने चाचा से इट्ट भट्टा के मालिक का मोबाइल नंबर मांगा था और इट्टा भट्टा पर बड़ी घटना करने एवं भट्टा को बंद कराने का धमकी भी दिया गया था। घटना के बाद से उक्त व्यक्ति गांव से फरार बताया जा रहा है।थाना प्रभारी राम इकबाल यादव ने बताया कि हत्या हुई है और हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है।

 

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page