औरंगाबाद

सांसद सुशील कुमार सिंह ने लोकसभा में शेरघाटी,बाँके बाजार,इमामगंज,डुमरिया होते हुए झारखंड में डालटेनगंज को रेल सेवा से जोड़े जाने का उठाया मामला

ब्यूरो रिपोर्ट। सदन की शीतकालीन सत्र के शुरुआत होते ही सांसद सुशील कुमार सिंह ने जनहित से सम्बंधित मुद्दों को उठाते हुए अपने लोकसभा क्षेत्र में शेरघाटी,बाँके बाजार,इमामगंज,डुमरिया होते हुए झारखंड में डालटेनगंज को रेल सेवा से जोड़े जाने का मामला उठाया है।

@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@

शहर में दूसरे दिन भी चला इंक्रोचमेंट ड्राइव,जानें कहाँ कहाँ बनाए गए पार्किंग जोन

यदि आपने हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब नहीं किया है तो कृपया इसे सब्सक्राइब जरूर कर लें और बेल आइकन दबाना ना भूले,ताकि आप खबरों से रहे अपडेट

*यदि हमारा यह वीडियो आपको पसंद आए तो कृपया लाइक शेयर और कमेंट जरुर करें आपके कमेंट की हमें प्रतीक्षा रहेगी*

@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@

सांसद ने सदन में अपने संबोधन के क्रम में बताया कि औरंगाबाद संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत दो जिले गया और औरंगाबाद  आते हैं।दोनों जिलों के अधिकांश क्षेत्र उग्रवाद प्रभावित है। दोनों ही जिले भारत सरकार द्वारा घोषित आकांक्षी जिलों की सूची में शामिल है। विगत एक दशक में केंद्र सरकार के प्रयासों से इन आकांक्षी जिलों में विकास योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन एवं गृह मंत्रालय के विशेष प्रयासों के तहत सड़क निर्माण और सड़क संपर्क की सघनता से जहां बेहतर सड़क संपर्कों से विकास दर को गति मिली है वही उग्रवाद पर लगाम लगाना संभव हो सका है।

 

सांसद ने कहा कि दक्षिणी बिहार के यह दोनों जिले गया औरंगाबाद झारखंड राज्य के चतरा हजारीबाग आदि उग्रवाद प्रभावित जिलों से सटे हुए हैं। वर्षों से स्थानीय लोगों की मांग है कि उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र में गया, शेरघाटी, बांके बाजार, इमामगंज, डुमरिया होते हुए झारखंड में डालटेनगंज को रेल सेवा से जोड़ा जाए। रेल सेवा का यह विस्तार बेहतर स्थानीय संपर्क के साथ उग्रवाद नियंत्रण में उपयोगी होगा।

 

सदन में सांसद के द्वारा क्षेत्र के विकास एवं उग्रवाद प्रभावित कई जिलों को रेल सेवा से जोड़ने की मांग को लेकर जिलेवासियों ने हर्ष व्यक्त किया है और सांसद के इस सोच की सराहना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page