औरंगाबाद

बहनोई से था इश्क तो करा दी अपने पति की हत्या

औरंगाबाद। अपने बहनोई के प्रेम में पागल होकर एक युवती ने ऐसा घिनौना खेल खेला कि अग्नि के सामने लिये गए सात जन्मों का कसम खाने वाला रिश्ता तार-तार हो गया। ऐसा ही एक मामला नबीनगर के चंद्रगढ़ से सामने आया है जहां एक पत्नी ने अपने पति की हत्या इसलिए करा दी कि उसका प्रेम संबंध अपने बहनोई से था।

शनिवार को इस मामले का खुलासा करते हुए एसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि 21 मार्च को नवीनगर थाना में चंद्रगढ़ निवासी गोपाल यादव ने एक प्राथमिकी अपने बेटे धनंजय यादव की हत्या की कराई थी।गोपाल यादव द्वारा दर्ज कराए गए प्राथमिकी में हत्या का आरोप अज्ञात अपराधियों पर लगाया गया था।

प्राथमिकी दर्ज होने के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी गौतम शरण ओमी के नेतृत्व में इसके उद्भेदन के लिए एक विशेष टीम गठित गठन की गई थी। टीम के द्वारा वैज्ञानिक अनुसंधान करते हुए पूरे कांड का उद्भेदन कर लिया गया और यह पाया गया कि इस हत्या में मृतक की हत्या किसी और ने नही बल्कि उसी की पत्नी संध्या देवी ने अपने प्रेमी जीजा के साथ मिलकर कराया था।

एसपी ने बताया कि मृतक की पत्नी संध्या देवी का प्रेम प्रसंग अपने ही जीजा ललू यादव के साथ था जो कि रिसियप थाना क्षेत्र के दुधवा गांव का रहने वाला है।इस हत्या मृतका की पत्नी और ललू यादव के साथ धनु बिगहा निवासी शिवकुमार एवं दूधैला निवासी कृष्णा कुमार चौधरी ने भी अहम भूमिका निभाई और चारों ने सुनियोजित तरीके से हॉकी स्टिक एवं अन्य शस्त्र द्वारा बेरहमी से मारकर धनंजय की हत्या कर दी थी।इस मामले में सभी चारों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है।

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page