औरंगाबाद

ओबरा के अदमा गांव में बहनोई ने साले को चाकू मारकर किया घायल, गंभीर अवस्था में साला हुआ रेफ़र

औरंगाबाद। ओबरा थाना क्षेत्र के अदमा गांव में मंगलवार को एक बहनोई ने चाकू मारकर अपने साले को गंभीर रूप से घायल कर  दिया जिसे ओबरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से इलाज के बाद बेहतर चिकित्सा के लिए सदर अस्पताल औरंगाबाद रेफर कर दिया गया। मगर सदर अस्पताल आने के बाद उसकी स्थिति को गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने मगध मेडिकल कॉलेज गया के लिए रेफर कर दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार चाकूबाजी की घटना में बहनोई राजू रंजन के द्वारा जख्मी किया गए युवक अरवल के करपी गांव निवासी रंग बहादुर यादव का पुत्र नागेंद्र कुमार है जो 2 दिन पूर्व ही अपने बहन के घर अदमा आया हुआ था और आज सुबह जब वह शौच के लिए बाहर निकला तो बहनोई ने ताबड़तोड़ चाकू से उस पर हमला कर उसे लहूलुहान कर दिया।

 

इस संबंध में ओबरा थानाध्यक्ष पंकज कुमार सैनी ने बताया कि युवक को किस कारण से उसके बहनोई ने चाकू मारा है यह स्पष्ट नहीं हो सका है और ना तो ग्रामीणों ने इस बारे में कोई जानकारी दी है।उन्होंने बताया कि घायल युवक के घरवालों को करपी से बुलाया जा रहा है तभी सच्चाई सामने आ पाएगी। फिलहाल राजू रंजन चाकूबाजी की घटना के बाद से फरार है जिसे पकड़ने की कोशिश की जा रही है।

हालांकि इस संदर्भ में ग्रामीणों में कई तरह की चर्चा व्याप्त है और लोग इसे प्रेम प्रसंग से जोड़कर देख रहे है।लेकिन इस संबंध में अभी तक कोई बयान पुलिस के समक्ष दर्ज नही कराया जा सका है।

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page