औरंगाबाद

शराबबन्दी को लेकर नया विधेयक पास, शराब पीने के बाद भी छूट सकते हैं शराबी, जाने कैसे

पटना। वर्ष 2016 के पहली अप्रैल से बिहार में शराबबन्दी लागू की गई थी। लेकिन उसमें बाद में परिवर्तन करते हुए बिहार में पूर्ण शराब बंदी लागू कर दी गई थी। आज 6 साल बाद शराब बंदी कानून में बड़े बदलाव किए गए हैं। जिसके बाद इस विधेयक को विधानसभा से पास कर दिया गया है।

बिहार विधानसभा में आज शराबबंदी संशोधन विधेयक को पेश किया और यह विधेयक सर्व सम्मति से पास भी हो गया। शराबबंदी कानून में बदलाव के बाद अब नियमों में भी बदलाव देखने को मिलेगा। इसमें कहा गया है कि अगर कोई शराबी पकड़ा जाता है तो उसे नजदीकी कार्यपालक मजिस्ट्रेक के समक्ष पेश किया जाएगा और उसे सिर्फ जुर्माना देकर ही छूट मिल सकती है।

अगर आरोपी जुर्माना नहीं देता है तो उसे एक महीने की सजा हो सकती है। बार-बार पकड़े जाने पर आरोपी को जेल और जुर्माना दोनों देना होगा। जुर्माने की राशि राज्य सरकार के द्वारा तय की जाएगी। अब डीएम के आदेश तक आरोपी से जब्त वस्तुओं को सुरक्षित रखना जरूरी नहीं होगा इसके बदले मजिस्ट्रेट के सामने पुलिस पदाधिकारी इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य पेश कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page