औरंगाबाद

सड़क दुर्घटना में बाइक सवार युवक की मौत, मुआवजे की मांग को लेकर 3 घंटे तक रहा सड़क जाम

औरंगाबाद। रफीगंज कासमा पथ के पेट्रोल पंप के समीप गुरुवार की रात्रि सड़क दुर्घटना में बाइक सवार अनियंत्रित होकर गिरकर सलैया थाना के अंतर्गत चौथाईया गांव निवासी रघुवीर यादव के 35 वर्षीय पुत्र अजय कुमार यादव एवं इसी गांव के रामविलास चौधरी के पुत्र योगेंद्र चौधरी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। रफीगंज सीएचसी में डॉक्टर द्वारा प्राथमिक उपचार कर दोनों को रेफर गया मगध मेडिकल कर दिया गया था। जिसमें गया जाने के दरमियान अजय कुमार यादव की रास्ते में ही मौत हो गई।

 

जिससे आक्रोशित लोगों ने शुक्रवार की सुबह 5 बजे सड़क को जाम कर दिया। मुआवजा की मांग को ले वाहनों की लंबी कतार लग गई। जाम कर रहे लोगों ने बताया कि अज्ञात हाईवा के धक्का लगने से बाइक से गिरकर घायल हो गए थे। परिजन एवं स्थानीय लोगों ने मृतक एवं घायलों के मुआवजा को लेकर सड़क जाम किया था। मृतक अजय कुमार यादव के पिता रघुवीर यादव ने बताया कि घर में कमाने वाले इकलौता था। पत्नी चिंता देवी , चार लड़की , एक लड़का, 12 वर्षीय स्वीटी कुमारी, 10 वर्षीय ब्यूटी कुमारी, 8 वर्षीय सोनाली कुमारी, 6 वर्षीय संध्या कुमारी, 3 वर्षीय आर्यन कुमार, भाई 20 वर्षीय अक्षय कुमार यादव को छोड़कर चले गए।

मजदूर का काम करके पूरा परिवार का भरण पोषण किया जाता था। सड़क जाम की सूचना पर अंचलाधिकारी अवधेश कुमार सिंह एवं एसआई कामेश्वर साह अपने दल बल के साथ पहुंचे उन्होंने परिजनों को आश्वासन दिया कि 20 हजार रुपये तत्काल परिवारिक लाभ योजना परिवहन विभाग दिया जाएगा। इनके आश्वासन पर 3 घंटे के बाद सड़क जाम को हटाया गया गया। जाम पर बैठे डॉक्टर तुलसी यादव ने बताया कि मृतक के परिजनों को उपस्थित जनप्रतिनिधियों को भी मुआवजा के तौर पर कुछ देना चाहिए था। लेकिन यहां सिर्फ भीड़ जुटाने को लेकर पहुंचे।

जिला परिषद शंकर यादवेंदु ने बताया कि परिजनों को मुआवजा शीघ्र ही दिया जाए और साथ ही नगर पंचायत क्षेत्र में भारी वाहनों का नो एंट्री लगाने की मांग किया ।इस मौके पर इस मौके पर जिला परिषद डॉक्टर संजय यादव, प्रदीप चौरसिया, विकास कुमार, पूर्व जिला परिषद दीनानाथ विश्वकर्मा, उप प्रमुख प्रतिनिधि उदय यादव ,श्रवण यादव, जाप नेता संदीप सिंह समदर्शी, सिद्धि यादव, शिवनंदन यादव, मंटू शर्मा, संजय शर्मा, के साथ अन्य जनप्रतिनिधियों ने मुआवजा की मांग किया।

 

अंचलाधिकारी अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि पारिवारिक लाभ के तहत 20 हजार रुपए के साथ सरकारी प्रधान के अनुसार 5 लाख रुपए दिया जाएगा। थानाध्यक्ष राम एकबाल यादव ने बताया कि समझा-बुझाकर जाम हटाने के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद भेज दिया गया।

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page