औरंगाबाद

एमएलसी की सीट एनडीए की होगी या महागठबंधन की, वोटिंग जारी, फैसला 7 को

औरंगाबाद। स्थानीय प्राधिकार कोटे के तहत विधान परिषद की सीट के लिए आज हो रहे चुनाव के तहत मतदान की प्रक्रिया जारी है।इसे लेकर जिले में कुल 11 मतदान केंद्र बनाए गए हैं जिन पर 3427 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं।आज के मतदान में 1637 पुरुष एवं 1790 महिला मतदाता अपने मतों का प्रयोग कर रहे है। इन 3427 मतदाताओं मे 51 मतदाता निरक्षर है और उनकी वोटिंग कैसे होगी इसकी विधिवत जानकारी भी दी जा चुकी है।इस चुनाव में सबसे अधिक मतदाता नबीनगर में है तो सबसे कम हसपुरा में है।नबीनगर में 402 मतदाता है तो हसपुरा में 233 मतदाता अपने मतदान का प्रयोग कर रहे हैं।

 

पूरे जिले के सभी प्रखंड मुख्यालयों में बनाये गए मतदान केंद्र पर सुबह 8 बजे से ही वोट देने की प्रक्रिया जारी है जो शाम चार बजे तक चलेगी।सुबह से ही मतदाताएँ में भी उत्साह चरम पर है।औरंगाबाद सदर प्रखंड परिसर स्थित बूथ पर वोटिंग जारी है जहां वोट देने के लिए राजद समर्थित प्रत्याशी एवं औरंगाबाद के सांसद सुशील कुमार सिंह ने भी अपने मतों का प्रयोग किया।

सांसद के द्वारा मतदान किये जाने के बाद जब उनसे यह सवाल किया गया कि औरंगाबाद के सभी छह विधानसभा सीटों पर महागठबंधन के कब्जे है तो एमएलसी के इस एक सीट पर क्या उम्मीद है।इस बात पर थोड़ा तल्ख हुए सांसद ने लोकसभा चुनाव में एनडीए के जीत का आंकड़ा प्रस्तुत किया और कहा कि चुनाव में जीत हार लगा हुआ रहता है।लेकिन एमएलसी के इस एकमात्र सीट पर एनडीए समर्थित प्रत्याशी ही चुनाव जीतेंगे।

बिहार में विधानसभा चुनाव के दौरान औरंगाबाद के सभी छह विधानसभा सीट बिहार की हॉट सीट में दूसरे नम्बर पर थी।लेकिन इस वर्ष एमएलसी के चुनाव में यह हॉट सीट में नम्बर एक पर आ गया है।हालांकि दोनों घटक दलों के द्वारा आने अपने जीत के दावे किए जा रहे है।लेकिन सात अप्रैल को परिणाम आने के बाद ही यह तय होगा कि एनडीए अपनी प्रतिष्ठा को बचाने में सफल होता है या नही

 

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page