औरंगाबाद

औरंगाबाद में एयरटेल टावर कर्मी की गोली मारकर अपराधियों ने की हत्या

पहले स्कॉर्पियो से बाइक में मारी टक्कर, फिर दाग दी गोली सुबह 3 बजे की घटना

औरंगाबाद। मुफस्सिल थाना क्षेत्र के यारी गांव के समीप बधार में एक 42 वर्षीय युवक की हत्या कर फेंकी गई लाश को पुलिस ने बरामद किया है। मृतक की पहचान गया जिला के कोंच निवासी प्रवीण कुमार उर्फ कमानी के रूप में की गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक पिछले 20 वर्ष से औरंगाबाद एयरटेल टावर में काम करता था और और टावर के कार्य में लगे सभी वाहनों में डीजल देने का काम करता था।

रविवार की सुबह लगभग 3 बजे वह यारी रोड के समीप कार्य में लगे एक पोकलेन में तेल देने के लिए अपने एक सहयोगी देव के भंडारी निवासी उपेंद्र यादव के साथ आ रहा था। तभी पीछे से पीछा करती आ रही एक स्कॉर्पियो ने उसकी बाइक में टक्कर मार दी। जिससे बाइक से दोनों गिर पड़े। इसी दौरान स्कॉर्पियो से उतरे हथियारबंद लोगों ने प्रवीण को गोली मार दी और भाग निकले।

 

घटना के बाद परिजनों एवं पुलिस को स्थानीय लोगों के द्वारा इस वारदात की सूचना दी गई। मौके पर पहुंचे मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजेश कुमार, देव थाना अध्यक्ष मनोज कुमार पांडेय पूरे मामलें की जांच में जुट चुके हैं। घटनास्थल पर पहुंचते ही जैसे ही पुलिस शव को कब्जे में लेने की कोशिश की परिजनों ने इसका विरोध किया और वरीय अधिकारी तथा डॉग स्क्वाड की टीम को बुलाने की मांग की।

घटना की सूचना मिलते हैं एसडीपीओ गौतम शरण ओमी दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और साथ रहे उपेंद्र यादव से पूछ-ताछ की। एसडीपीओ के समक्ष उपेंद्र ने बताया कि मृतक शेरघाटी से औरंगाबाद के लिए चला था और आमस में वह उसके साथ हो लिया। जैसे ही यारी रोड में बाजार के समीप उनकी बाइक पहुंची पीछे से स्कार्पियो ने धक्का मार दी।जिसके बाद वह जान बचाकर भाग खड़ा हुआ।

इसी दौरान स्कार्पियो से उतरे लोगों ने उसकी हत्या कर दी। उपेंद्र ने बताया कि 4 दिन पूर्व भी एक स्कार्पियो द्वारा मृतक का पीछा किया गया था। इधर इस मामले में उपेंद्र यादव को विशेष पूछताछ के लिए थाने पर लाया गया है। एसडीपीओ ने बताया कि हत्या के कारणों की जांच की जा रही है और डॉग स्क्वाड तथा एफएसएल की टीम को बुलाया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले से जुड़े हर बिंदु पर जांच की जाएगी और घटना को अंजाम देने वाले कोई भी हो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

इसे भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
You cannot copy content of this page