औरंगाबाद

सभी मेहनतकश एकजुट होकर श्रमिक विरोधी सरकार की वैश्वीकृत नवउदारवादी नई आर्थिक नीतियों का करें विरोध

हसपुरा।”आज वक्त की जरूरत है कि हिंदुस्तान के सभी कर्मचारी और शिक्षक ही नहीं बल्कि समाज के सभी मेहनतकश तबके एकजुट होकर श्रमिक विरोधी सरकार की वैश्वीकृत नवउदारवादी नई आर्थिक नीतियों का विरोध करें क्योंकि इस नीति से समाज के सभी तबके बुरी तरह से शोषित पीड़ित और प्रताड़ित हो रहे हैं । चाहे वह कृषि कानूनों के माध्यम से किसानों को गुलाम बनाने का प्रयास हो या श्रम सुधार कानूनों के माध्यम से श्रमिक विरोधी कानूनों को लागू करने का प्रयास हो ।

 

श्रमिक विरोधी या किसान विरोधी सारे कानून उसी वैश्वीकृत नवउदारवादी नई आर्थिक नीतियों के गर्भ से निकले हैं ।”-उक्त बातें महासंघ(गोप गुट) के जिला सचिव सत्येन्द्र कुमार ने आज यहां महासंघ के प्रखंड सम्मेलन को मुख्य वक्ता की हैसियत से संबोधित करते हुए कही । इससे पूर्व इस सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए महासंघ(गोप गुट) के जिला अध्यक्ष राम ईशरेश सिंह ने कहा कि जब तक सभी संवर्गों के राज्य कर्मी एकजुट नहीं होंगे तब तक उनका शोषण जारी रहेगा ।

 

आज संगठन को मजबूत न करने का ही परिणाम है कि सरकार बहुत सारे विभागों में कॉन्ट्रैक्ट पर बहालियां कर रही है जिन्हे न तो नौकरी की सुरक्षा हासिल है और न ही उचित वेतन भत्ते और सुविधाएं हासिल हैं । इसके अलावा उक्त कोटि के कर्मियों के ऊपर कार्य का असहनीय बोझ डाल दिया गया है जिसके कारण उन्हें रात दिन हमेशा सरकारी कार्य में ही व्यस्त रहना पड़ता है । यह एक गुलामी जैसी स्थिति है जिसे सभी कॉन्ट्रैक्ट कर्मी,दैनिक वेतन भोगी कर्मी,मौसमी कर्मी,मानदेय कर्मी,प्रोत्साहन भत्ता कर्मी,इत्यादि अनियमित कर्मी भोग रहे हैं ।

इनके अलावा इस सम्मेलन को रा मध्य विद्यालय तिलकपुरा के प्रधानाध्यापक,अवधेश कुमार,महासंघ के जिला स्तरीय संयुक्त सचिव तथा हसपुरा के जनसेवक जनेश्वर चौधरी,उपाध्यक्ष दिनेश प्रसाद सिंह,बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ (गोप गुट)’मूल’ के जिला संयोजक सुरेन्द्र सिंह, रा मध्य विद्यालय अल्प के शिक्षक कमलेशकांत कुमार, कार्यपालक सहायक तबरेज आलम,इत्यादि लोगों ने भी संबोधित किया । इस सम्मेलन की अध्यक्षता वरीय जनसेवक सुरेन्द्र प्रसाद सिंह तथा संचालन रा मध्य विद्यालय, तिलकपुरा के प्रधानाध्यापक अवधेश कुमार ने किया। इस सम्मेलन ने सर्वसम्मति से हसपुरा प्रखंड की प्रखंड-कमिटी का चुनाव किया जो इस प्रकार है:–

सुरेन्द्र प्रसाद सिंह(जनसेवक हसपुरा) को अध्यक्ष,अवधेश कुमार(प्रधानाध्यापक) को सचिव, तवारेज आलम(कार्यपालक सहायक) को कोषाध्यक्ष चुना गया । इनके अलावा उपाध्यक्ष पद पर कमलेश कुमार(प्रखंड शिक्षक),श्रवण कुमार(कार्यपालक सहायक) एवं शाह फैजल को चुना गया जबकि संयुक्त सचिव के पद पर मुकेश कुमार( कार्यपालक सहायक),विशाल वैभव(कार्यपालक सहायक) तथा दिनकर कुमार(कार्यपालक सहायक) को चुना गया । संघर्ष कोष पार्षद में संघर्ष अध्यक्ष के पद पर बैजू प्रसाद(कार्यपालक सहायक) तथा संघर्ष सचिव के पद पर अजय कुमार पासवान(कार्यपालक सहायक) को चुना गया ।

अन्त में एक तीन सूत्री संकल्प प्रस्ताव भी पारित किया गया जिसमें महासंघ के आगामी 22 अप्रैल के जिला सम्मेलन को तन,मन एवं धन से कार्य किया जाएगा तथा महासंघ को एक सशक्त संगठन बनाने के लिए सभी कोटि के शिक्षकों एवं कर्मचारियों को संगठित करते हुए महासंघ की हसपुरा प्रखंड कमिटी को एक मॉडल प्रखंड बनाया जायेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page