औरंगाबाद

कजपा बैंक लूटकांड का मुख्य सरगना हुआ गिरफ्तार

गिरफ्तार मुख्य सरगना अंतर्राज्यीय 20-25 मामलों में हैं नामजद आरोपी

औरंगाबाद। दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक में 237264 रूपयों की लूट कांड के मुख्य सरगना को औरंगाबाद पुलिस ने धर दबोचा हैं जिसकी पहचान गया ज़िले के परैया थाना अंतर्गत पहरा गांव निवासी स्व. दूधेश्वर दास के पुत्र नीरज दास उर्फ़ सत्येंद्र दास उर्फ गोरा उर्फ विनोद कुमार उर्फ पंकज उर्फ अशोक के रूप में की गई है।

 

इस बात की जानकारी देते हुए सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी गौतम शरण ओमी ने बताया कि गिरफ्तार अपराध कर्मी एवं इसके अन्य तीन साथियों द्वारा 11 अप्रैल 22 को रफीगंज थाना अंतर्गत कजपा गांव के दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक से 2 लाख 37 हजार 2 सौ 64 रूपये की लूट की वारदात को अंजाम दिया गया था। इसके बाद ये सभी मौके से फरार हो गये थे।

 

इसके बाद कांड में उक्त बैंक के शाखा प्रबंधक अरविंद कुमार के शिकायत पर अज्ञात अपराध कर्मियों के खिलाफ रफीगंज थाना में मुकदमा दर्ज किया गया था जिसमें अब तक अजय सिंह, मुकेश सिंह एवं इंद्रजीत उर्फ कालिया को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

 

वहीं इस कांड में संलिप्त मुख्य अपराध कर्मियों की गिरफ्तारी हेतु रफीगंज थानाध्यक्ष राम इकबाल यादव के नेतृत्व में लगातार छापेमारी की जा रही थी जिसमें इसकी गिरफ्तारी झारखंड प्रदेश के जमशेदपुर से की गई है। गिरफ्तार मुख्य सरगना ने बैंक लूट कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। इसके अलावा इसकी संलिप्तता के संबंध में सीसीटीवी फुटेज भी प्राप्त हुआ है।

 

एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार सरगना बंगाल व झारखंड समेत अन्य राज्यों में लगभग 20 – 25 बैंक लूट कांडों में इस तरह की घटना करित किया हैं। जिसका 10 कांडों का अपराधिक इतिहास अब तक ज्ञात किया गया है तथा शेष कांडों में इसका अपराधिक इतिहास ज्ञात किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page