औरंगाबाद

अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस पर डिस्ट्रिक्ट जज के नेतृत्व में पीड़ितों को कानूनी लाभ दिलाने के लिए निकाली गई कैंडल मार्च

औरंगाबाद। जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में तथा जिला जज के नेतृत्व में अन्तर्राट्रीय मानवाधिकार दिवस पर व्यवहार न्यायालय परिसर में एक कैंडल मार्च का आयोजन किया गया। इस कैडिंल मार्च में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव सह अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रणव शंकर सहित सारे न्यायिक पदाधिकारीकण, पैनल अधिवक्ता, एवं पारा विधिक स्वयं सेवक सम्मिलित हुए।

 

 

कैंडिल मार्च के पूर्व जिला जज द्वारा मीडिया कर्मियों तथा उपस्थित सभी न्यायिक पदाधिकारियों को शुभकामनाएं दी गयी जिन्होंने मानवाधिकारों को जागृत करने मे सामाजिक प्रहरी का प्रखर योद्धा की भूमिका में अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया। उन पत्रकारों के कार्यों की भी सराहना की गई जिन्होंने अपनी कलम और शब्दों से मानवाधिकार की आवाज बनकर अपनी लेख और वक्तव्यों से संस्थानों को जागृत होने को मजबूर किया।

 

 

इस अवसर पर जिला जज द्वारा जिला विधिक सेवा प्राधिकार के कार्यो को भी सराहा गया। जिसके माध्यम से मानव की मूलभूत आवश्यकताओं तथा उनके विधिक अधिकारों की रक्षा के लिए हमेशा सजग रहकर विविध कार्यक्रमों को आयोजित किया गया और पीड़ितों को उनका हक दिलाया गया।जिला जज ने बताया कि जिला विधिक सेवा प्राधिकार संविधान के द्वारा प्रदत्त मूल अधिकारो जो मानवाधिकारों में समाहित है और उसे जरूरतमन्दों तक पहुॅचाने में एक सशक्त माध्यम के रूप में कार्य कर रहा है।

 

 

उन्होंने कहा कि हमें मानवाधिकारों की रक्षा हेतु हमेशा तत्पर होकर कार्य करना है और जिला विधिक सेवा प्राधिकार अपने स्तर से हर संभव प्रयास करता रहेगा ताकि जिलेवासियों के मानवाधिकार की रक्षा हर स्तर पर सुनिश्चित होते रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page