औरंगाबाद

त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग में हुई थी चंदन की हत्या, तीन गिरफ्तार

औरंगाबाद। पिछले माह 30 नवम्बर को बड़ेम ओपी के रहरा गांव स्थित सूखे कुएं में हत्या कर फेंकी गई एक अज्ञात युवक की मिली लाश मामले का पुलिस ने उद्भेदन कर लिया है और इस हत्या कांड में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।शनिवार को एक प्रेसवार्ता कर एसपी कांतेश कुमार मिश्र ने इस मामले का खुलासा किया है।

 

एसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि बड़ेम ओ०पी० पुलिस को सूचना मिली रहरा गांव के पश्चिम बधार के एक कुआं में व्यक्ति का शव पड़ा हुआ है। यह मामला 30 नवंबर 2021 का हैं। इस दौरान शव का सत्यापन किया गया। वहीं उस वक्त रात्रि होने तथा संसाधन उपलब्ध नहीं रहने के कारण थानाध्यक्ष के द्वारा चौकीदार को कुएं के पास निगरानी में तैनात किया गया था। इसके बाद दूसरे दिन कुएं से शव को निकालकर मृत्यु समीक्षा तैयार कर अनत्य परीक्षण हेतु भेजा गया। शव का शिनाख्त उस दिन नहीं हो सका। इस संबंध में नवीनगर (बडेम ओपी) में 30 नवम्बर को थाना कांड संख्या 307/21 दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू की गई।

 

इसी क्रम में दो दिसम्बर को मृतक की पहचान माली थाना अंतर्गत माली गांव निवासी लखन चौधरी के पुत्र चंदन कुमार उर्फ खबरू के रूप में की गयी। जिसकी सूचना बाद में परिजनों को दी गयी थी। वहीं इसके बाद अनुसंधान के क्रम में गुप्त सूचना आसूचना संकलन, वैज्ञानिक अनुसंधान, तकनिकी विशलेषण से थानाध्यक्ष एवं उनकी टीम द्वारा इस कांड में शामिल माली थाना अंतर्गत रूपन बिगहा निवासी ललन पासवान के पुत्र विपिन कुमार, बागाही गांव निवासी बिजली पासवान के पुत्र बंदन पासवान एवं रोहतास जिले के नौहट्टा थाना अंतर्गत उली गांव निवासी अवधेश पासी के पुत्र भुपेश कुमार को गिरफ्तार किया गया और इस कांड में मृतक का मोबाईल भी अभियुक्त के पास से बरामद किया गया।गिरफ्तार अभियुक्तों ने इस हत्याकांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।

 

एसपी ने बताया मृतक का माली थाना अंतर्गत रघु बिगहा गांव निवासी एक युवती के साथ प्रेम प्रसंग का मामला चंदन पासवान भूपेश कुमार और मृतक चंदन कुमार उर्फ खबरु से था। चंदन पासवान व भूपेश कुमार नहीं चाहते थे कि चंदन कुमार का प्रेम प्रसंग युवती के साथ रहे। इसी को लेकर 24 नवंबर को उक्त लोगों ने चंदन कुमार की हत्या कर दी और शव कुएं में फेंक दिया। इसके बाद ग्रामीणों द्वारा कुएं में एक युवक के शव होने की सूचना पुलिस को मिली।

 

एसपी ने बताया कि इस हत्याकांड के उद्भेदन में बड़ेम ओपी थानाध्यक्ष धनंजय कुमार सिंह, एनटीपीसी खैरा थानाध्यक्ष संजय कुमार, माली थानाध्यक्ष पवन कुमार, सिपाही मनोज कुमार पाण्डेय, हसमत अंसारी, संतोष कुमार एवं निरंजन कुमार शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page