औरंगाबाद

औरंगाबाद भाजपा जिला उपाध्यक्ष ने जिलाध्यक्ष को बताया शराबी, प्राथमिकी के लिए एसपी को दिया आवेदन

औरंगाबाद। जिले में भारतीय जनता पार्टी में कुछ ठीक नही चल रहा है।हाल के प्रकरणों से यह स्पष्ट हो रहा है कि पार्टी आपसी अंतर्कलह में जकड़ा हुआ है और यहां विरोधी नही बल्कि अपने ही दल के लोग एक दूसरे पर बयानों के तीर छोड़ रहे हैं।मंगलवार को भाजपा जिलाध्यक्ष का एक ऑडियो वायरल हुआ जिसमें उनके द्वारा पार्टी के सांसद,पूर्व विधायक एवं एमएलसी के बारे में विवादित बयान दिए जा रहे थे।हालांकि बुधवार को जिलाध्यक्ष ने उस बयान का खंडन कर उसका ठीकरा दूसरे पर मढ़ते हुए खुद को उससे अलग कर लिया।

 

लेकिन उसी वायरल ऑडियो का हवाला देते हुए पार्टी के जिला उपाध्यक्ष कुमार बलराम सिंह उर्फ भोला सिंह ने औरंगाबाद के एसपी कांतेश कुमार मिश्रा को जिलाध्यक्ष पर प्राथमिकी करने का आवेदन दिया है।अपने द्वारा दिए गए आवेदन में श्री सिंह ने बताया है कि 2 दिसंबर को संध्या 7 बजे उन्होंने अपने मोबाइल नंबर 620 6630015 से जिलाध्यक्ष मुकेश शर्मा के मोबाइल नंबर 9431227497 पर पार्टी के कार्यक्रम के संबंध में बात करने के लिए फोन किया था। लेकिन फोन करने के बाद ऐसा प्रतीत हुआ कि जिलाध्यक्ष शराब के नशे में धुत हैं और उसी दौरान उनके द्वारा जिले के वरीय नेताओं के लिए अपमानजनक शब्द का प्रयोग किया गया।जिलाध्यक्ष ने आगे बताया है कि जब मेरे द्वारा उन्हें रोकने की कोशिश की गई परंतु वे रुके नही और अपनी बात को ही रखने में मशगूल रहे।

 

जिला उपाध्यक्ष ने अपने आवेदन के माध्यम से एसपी को बताया है कि उन्हें पूर्व से इस बात की जानकारी थी और बाद में भी इस बात की जानकारी हुई कि जिलाध्यक्ष मुकेश शर्मा शराब के आदी हैं। उनका ऑडियो वायरल होने के बाद स्पष्ट हो गया कि वह शराबी हैं और इनके शराब पीने के कारण सरकार के शराबबंदी योजना पर विरोधियों द्वारा उंगली उठाई जा रही है। ऐसी स्थिति में उन्होंने एसपी से आग्रह किया है कि जिलाध्यक्ष मुकेश शर्मा के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर कड़ाई से पूछताछ किया जाए कि वे कहां से शराब लाकर पीते हैं। ताकि उससे यह पता चल सके कि शराबबंदी को विफल करने में किसका हाथ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page