ब्यूरो रिपोर्ट

बिहार में अब शराबी नही जाएंगे जेल, लेकिन कैसे?

ब्यूरो रिपोर्ट। बिहार में लागू शराबबंदी कानून को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है। बिहार उत्पाद विभाग की ओर से निर्णय लिया गया है कि अगर कोई व्यक्ति शराब के नशे में पकड़ा जाता है और पूछताछ के दौरान वो ये बता देता है कि शराब उसने कहां से खरीदी है और उसके जानकारी पर अगर शराब के धंधे का खुलासा होता है तथा शराब माफियाओं की गिरफ्तारी होती हैं तो उसे रियायत मिलेगी। उसकी गिरफ्तारी नहीं होगी और उसे छोड़ दिया जाएगा।

उत्पाद विभाग के ज्वाइंट सेक्रेट्री कृष्ण कुमार ने कहा कि ये फैसला इसलिए लिया गया है क्योंकि मौजूदा समय में पौने चार लाख से अधिक व्यक्ति को जेल भेजा गया है। लेकिन शराबबंदी एक सामाजिक कुरीति है, आपराध नहीं है। शराब का सेवन करने वाले को सुधारा जा सकता है। ऐसे में जो शराब बेच रहे हैं और लोगों को शराब उपलब्ध करा रहे हैं, हमारा फोकस उन पर है। ऐसा करने से शराब माफियाओं की कमर टूट जाएगी और सीधा फायदा सरकार को होगा।

सोर्स-एबीपी न्यूज

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page