औरंगाबादमेरा वार्ड मेरी सरकार

मतदान एवं मतगणना पदाधिकारियों का द्वितीय प्रशिक्षण संपन्न, जिला प्रशासन की तैयारी लगभग पूरी

मतदान का समय आते ही प्रत्याशियों के बढ़ने लगी धड़कने, 10 अक्टूबर की सुबह 7 बजे से होगा मतदान

औरंगाबाद, कपिल कुमार

नगर निकाय चुनाव की तैयारी जोरों से चल रही है। चुनाव में अब कुछ ही दिन बचे हैं। जैसे-जैसे मतदान का समय नजदीक आ रहा है वैसे प्रत्याशियों की धड़कनें तेज हो रही है।  जिला प्रशासन की ओर से चुनाव की तैयारी संपूर्ण करने की कवायद लगभग पूरी हो चुकी है। 10 अक्टूबर की सुबह 7:00 बजे से मतदान शुरू होगा। चुनाव की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है। शनिवार को किशोरी सिन्हा महिला कॉलेज औरंगाबाद में सभी नगर निकायों के ईवीएम मशीन की कमीशनिंग का कार्य पूरा कर लिया गया है। वहीं इसी कड़ी में शनिवार को अनुग्रह इंटर विद्यालय में दो पालियों में करीब 1380 मतदान कर्मियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया , जिसमे पीठासीन पदाधिकारी, प्रथम , द्वितीय एवं तृतीय मतदान पदाधिकारी शामिल हुए। मतदान कर्मियों को प्रशिक्षण देने हेतु 66 मास्टर प्रशिक्षक प्रतिनियुक्त हैं। साथ ही नगर भवन औरंगबाद में गस्ती सह ईवीएम संग्रहण दंडाधिकारिओं तथा मतगणना पदाधिकारियों का प्रशिक्षण आयोजित किया गया। प्रशिक्षण प्रभारी सह मुख्य मास्टर प्रशिक्षक राजकुमार प्रसाद गुप्ता ने बताया कि जिले के पांच नगरनिकायों के लिए आगामी 10 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे और 12 अक्टूबर को मतगणना कराया जाना है। इसे ले कर सभी प्रकार के प्रशिक्षणों को ससमय पूरा करने का आयोग से निर्देश प्राप्त है। मतदान पदाधिकारियों को पूरी मतदान प्रक्रिया, ईवीएम मशीन की जानकारी, मॉक पोल, सभी आवश्यक प्रपत्रों को भरने, मतदान कर्मियों के कार्य एवं दायित्व, मतदान के दौरान ईवीएम मशीन में आने वाले एरर्स तथा इसके समाधान आदि के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया। सभी मतदान कर्मियों की ईवीएम मशीन का हैंड्स ऑन प्रशिक्षण भी दी गई। वहीं दूसरी ओर नगर भवन औरंगाबाद में गस्ति सह ईवीएम संग्राहक दंडाधिकारिओं तथा मतगणना पदाधिकारियों का भी गहन प्रशिक्षण का आयोजन दो पालियों में किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में मौजूद उप निर्वाचन पदाधिकारी सह नोडल पदाधिकारी प्रशिक्षण कोषांग मोहम्मद गजाली ने उपस्थित पीसीसीपी को बताया की मतदान के दिन आपकी भूमिका काफी महत्वपूर्ण होती है। आप मतदान कर्मियों को ईवीएम मशीन एवं महत्वपूर्ण सील एवं टैग उपलब्ध कराते हैं। इन सामग्रियों को आपको प्राप्ति स्थल से उठाव करना होता है, इसलिए सावधानी पूर्वक ये देख लें की मशीन संबंधित मतदान केंद्र का ही है। मतदान के दिन आपको अतिरिक्त शक्तियां प्रदान की जाती है। ताकि उस दिन अपनी शक्तियों का प्रयोग कर मतदान को दूषित होने से बचाया जा सके। मतदान की गोपनीयता भंग न हो इस बात का भी ख्याल रखना होता है। आपका पूरा दायित्व हैं की मतदान शांतिपूर्ण, निष्पक्ष, त्रुटिरहित संपन्न हो। इसके लिए आप सभी को भी पूरी मतदान प्रक्रिया से भली भाती अवगत हो लें। इस अवसर पर मुख्य प्रशिक्षक राजकुमार प्रसाद गुप्ता ने उपस्थित पीसीसीपी तथा मतगणना पदाधिकारियों को उनके कार्य और दायित्व के बारे में विस्तार पूर्वक बताया। साथ ही सभी को ईवीएम मशीन, मॉक पोल, पोलिंग एजेंट की नियुक्ति, वास्तविक मतदान की तैयारी , मतदान तथा मतगणना की पूरी प्रक्रिया आदि से बारी बारी से अवगत कराया। उन्होंने बताया की मतगणना का कार्य किशोरी सिन्हा महिला कॉलेज औरंगाबाद में प्रस्तावित है, जहां सभी नगर निकायों के तीनों पदों के लिए अलग अलग मतगणना कक्ष बनाए जायेंगे। मतदान केंद्रों की संख्या के अनुसार मतगणना टेबल लगाए जायेंगे। प्रत्येक टेबल पर एक एक मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक तथा मतगणना माइक्रो ऑब्जर्वर मौजूद रहेंगे। सभी लोग मिल कर मतगणना कार्य को सम्पन्न करेंगे। इस अवसर पर प्रशिक्षण कोषांग के मास्टर प्रशिक्षक शशिधर सिंह, अजीत कुमार, विकास पासवान,सैयद मोहम्मद दायम, कुंदन कुमार ठाकुर, अखिलेश शर्मा,अमित भास्कर, श्रवण कुमार सहायक कर्मी नरेश सिंह, कमलेश ठाकुर आदि मौजूद थें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page