विविध

जन सुराज पदयात्रा का 55वां दिन पूर्वी चंपारण के सुगौली में प्रशांत किशोर ने कहा- अगर आप बिहार को विकसित देखना चाहते हैं ,तो लालू-नीतीश की 35 साल की राजशाही को खत्म करना होगा

सुगौली,पूर्वी चंपारण

जन सुराज पदयात्रा का 55वां दिन पूर्वी चंपारण के सुगौली में प्रशांत किशोर ने कहा- अगर आप बिहार को विकसित देखना चाहते हैं ,तो लालू-नीतीश की 35 साल की राजशाही को खत्म करना होगा

प्रशांत किशोर के जन सुराज पदयात्रा के 55वें दिन की शुरुआत पूर्वी चंपारण जिले के सुगौली प्रखंड के फुलवारिया स्थित जन सुराज पदयात्रा शिविर में सर्वधर्म प्रार्थना से हुई। इसके बाद पदयात्रा का हुजूम वार्ड 11 बिरति टोला पहुंचा जहां प्रशांत किशोर समेत सभी पदयात्रियों का लोगो ने भव्य स्वागत किया व कुछ दूरी तक पदयात्रा का हिस्सा बनें। इसके बाद प्रशांत किशोर ने जनसभा को संबोधित किया। इसके बाद पदयात्रा आदर्श हाई स्कूल फुलवारी से शुरू होकर वार्ड नंबर 11 बिरति टोला, वार्ड नंबर 10, राम टोली फुलवारी, जोहर टोला, भटवालिया, बसंतपुर, गोविंदपुर, गोपालपुर, फुलवारिया,कनिहर, बेहरूपिया, सुगौली नगर पंचायत, अमिर खान टोला, सगौली, बेलवाटिया, सीतालपुर, माली गोरिगावा, तिलैया, बेगुइया, मुसावा, बेरिहरि से होकर रात्रि विश्राम के लिए रोशनपुर सपाहा पहुंची।

अगर आप बिहार को विकसित देखना चाहते हैं, तो लालू-नीतीश की 35 साल कि राजशाही को करना होगा खत्म: प्रशांत किशोर

जन सुराज पदयात्रा के दौरान पूर्वी चंपारण के सुगौली प्रखंड के भटवालिया पंचायत में प्रशांत किशोर ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा,”अगर आपको अपनी जिंदगी बेहतर करनी है ,तो बिहार में लालू-नीतीश के 35 साल के इस राज को खत्म करना होगा। जिस जंगलराज को आपने उखाड़ कर फेक दिया अब वह फिर से पीछे के दरवाजे से घुसने की कोशिश कर रहा है। आपका प्रयास होना चाहिए कि वह साकार ना होने पाए। अब वक्त आ गया है- ‘अपराधियों के जंगलराज को भी उखाड़ फलने का’।”

आगे उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति या दल में यह ताकत नहीं है कि वह बिहार को आकर सुधार दे। अगर कोई नेता या दल आकर दावा करता है, तो दो बातें हो सकती है या तो वह बिहार की वास्तविक स्थिति से रूबरू नहीं है या फिर बाकी नेताओं की तरह आपको ठगने का प्रयास कर रहा है। मेरा प्रयास कोई दल खड़ा करने का नहीं है,बल्कि जनता की सरकार लाने का है। जिसमें ऐसे व्यक्ति को चुनकर निकाला जाए जिसमें काबिलियत है, काम करने का जज्बा है, जिसको आप सभी मिलकर चुने और उसके पीछे हम अपनी पूरी, ताकत,शक्ति,संसाधन लगाएंगे तभी वास्तव में बिहार सुधरेगा।

पदयात्रा के दौरान प्रशांत किशोर ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा,”यह कानून है कि सरकार को समर्थन मूल्य पर ही आपका गेहूं, गन्ना, धान खरीदना है। लेकिन बिहार सरकार ने मंडी की व्यवस्था ही बंद कर दी। हालिया हुए एक रिसर्च के मुताबिक समर्थन मूल्य पर ही सरकार यदि गेहूं, धान, गन्ना खरीद ले तो बिहार के किसानों को करीब करीब 30 हजार करोड रुपए का मुनाफा होगा। यह पैसा बिहार सरकार को अपने जेब से नहीं देना है, बल्कि केंद्र सरकार से मुहैया कराया जाएगा। हमें यह सब समझ ही नहीं आ रहा है हम केवल दाल-भात चोखा खाकर अपने में मस्त रहते हैं।

बिहार की जनता को लगा था मोदी मतलब महामानव, मोदी जी आएंगे, जादू की छड़ी घुमाएंगे और सब ठीक हो जाएगा :प्रशांत किशोर

सुगौली में प्रशांत किशोर ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि,”मोदी जी बिहार आए उन्होंने जनता से बड़े-बड़े वादे किए जैसे बिहार में चीनी मिल चालू हो जाएगा, भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा, लोगों को अच्छी शिक्षा व्यवस्था मिलेगी, रोजगार मिलेगा। तो बिहार की जनता को लगा कि मोदी कोई महामानव है, जिनके छड़ी घूमाते ही सब ठीक हो जाएगा और उन पर भरोसा दिखाते हुए जनता ने उन्हें बहुमत से जिताया भी। 40 में से 39 सांसद एनडीए कबजीत कर गए। आप सोच कर देखिए अगर चीनी मिल नहीं खुल पाई थी तो मोदी जी कोई अन्य उद्योग बिहार में खोल सकते थे पर उन्होंने ऐसा नहीं किया, क्योंकि वह जानते हैं कि आप अंततःसब भूलकर वोट होने दे ही देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इसे भी पढ़ें

Back to top button

You cannot copy content of this page