मुंबईराजनीति

एकनाथ शिंदे कैंप के विधायकों की क्या है नाराजगी

शिवसेना के बचे हुए विधायक आज मातोश्री में करेंगे बैठक, 11 बजे के बाद स्थिति होगी स्पष्ट

महाराष्ट्र ब्यूरो

मुंबई। एकनाथ शिंदे कैप के विधायकों की नाराज़गी की वजहों में ये भी है कि जिन एनसीपी नेताओं को चुनाव में हराकर जीते उनको एनसीपी उनके इलाके में मजबूत कर रही है और ताकत दे रही है और शिवसेना के विधायकों को हाशिए पर धकेला जा रहा है। इसके पीछे शरद पवार को मुख्य रूप से ज़िम्मेदार मान रहे हैं। इन विधायको का कहना है कि ऐसा लगता है कि शिवसेना के मालिक भी शरद पवार हो गए है।

 

दूसरी नाराजगी की बड़ी वजह आदित्य ठाकरे की कार्यशैली है। विधायकों का कहना है कि आदित्य ठाकरे खुद को शिवसेना का मुखिया समझते है उसी तरह वो बिहैव करते हैं।एकनाथ शिंदे गुट का मानना है कि 13 विधायकों को छोडकर बाकि सभी शिवसेना विधायक देर-सबेर इधर आ जाएंगे।

 

सूत्रों का कहना है कि नितिन देशमुख को खुद एकनाथ शिंदे के कहने पर गुवाहाटी एयरपोर्ट से वापिस भेजा गया। क्योकि जब देशमुख बागी विधायकों के साथ सूरत से गुवाहाटी पहुंचे तो वो वापिस महाराष्ट्र जाने की बात करने लगे। जिसको बाद उनको कुछ देर एयरपोर्ट के लाउंज में बिठाया गया। जब देशमुख नहीं माने। एकनाथ शिंदे ने कहा कि ये सारा मामला खराब कर देंगा।इसलिए नितिन देशमुख को वापिस महाराष्ट्र चार्टर से भेजा गया।

11 बजे होगी स्थिति स्पष्ट

आज मातोश्री बंगले में युद्धव ठाकरे शिवसेना के बचे हुए विधायको और सांसदों के साथ सीनियर नेताओ से चर्चा कर सकते है ऐसी खबर है कि साढ़े 11 बजे शिवसेना नेताओ से आगे की रणनीति पर बातचीत की जाएगी तभी पूरी स्थिति स्पष्ट होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
You cannot copy content of this page